कुँए में भांग घुली है

rsdhull मुद्दे Leave a Comment

हरियाणा भी आज कल बड़ी अजूबा परिस्थिति से गुजर रहा है. कहने को तो सरकार है पर पिछले एक हफ्ते से पूरी की पूरी सरकार गायब है और दूसरी तरफ रामलीला मैदान में डंडे चल रहे हैं. एक ओर महिला विकास मंत्री विधानसभा के सेशन के बाद से लापता है और एक दिन मैडम त्तुसाद म्यूजियम में ब्रिटेन की महारानी के साथ सपरिवार फोटो खिंचवाती हुई पाई गयी. जैसे ही वह महान फोटो उनके ट्वीटर पर पंहुची तो कपिल शर्मा ने अपना माथा पीट लिया. लिखा था कि वे लन्दन में महारानी के पुतले नहीं महारानी के साथ खड़ी हैं. वित्त मंत्री की स्थिति और भी खराब है. जहाँ उनके भाई सरकार के खिलाफ एफिडेविट फ़ाइल करते घूम रहे हैं तो दूसरी ओर वे सीबीआई जांच करवा रहे हैं. वे कहते हैं कि उनकी सरकार के आने के बाद हरियाणा में ठेके और सेफ हो गये हैं? अब वो सेफ कैसे हो गये हैं उसके बारे में उनका कहना है क्योंकि अब वे मोहल्ले वालों के कहने से बंद नहीं होंगे. अब यह समझ नहीं आ रहा कि मोहल्ले वालों के कहने से बंद नहीं होने से ठेके सेफ कैसे होते हैं? खैर आगे चलिए, एक दिन तो ऐसा तूफ़ान आया कि मुख्यमंत्री कसौली भ्रमण पर हेलीकॉप्टर में जा पंहुचे; एक पूरे दिन हेलीकॉप्टर और मुख्यमंत्री दोनों लापता रहे; सीआइडी ढूंढती रही. सुबह जाकर वे पंचकुला में जाकर प्रकट हुए. स्वास्थ्य मंत्री भी अजीब से कोप का सामना कर रहे हैं. एक और तो वे बिजली कर्मी को सस्पेंड करते हैं तो दूसरी और DyCMO से इनेलो के नारे लगवाते हैं. ऑनलाइन ट्रांसफर होते ही दो दिन में वापिस हो जाते हैं. कभी उनको इनेलो में सांप नजर आता है तो कभी भारत की जनसंख्या ही 365 करोड़ नजर आती है. चलो जनसंख्या की बात भी हजम हो जाये; भला कोई खुद को भी आदरणीय कहता है? नहीं कहता न? सुनिए श्रीमान आप गलत हैं; हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री ट्विटर पर खुद को आदरणीय कहते हैं. विकास की इतनी नदियाँ बहा देते हैं कि उनके खुद के घर में बरसाती पानी का समुद्र खड़ा हो जाता है. हाउसिंग बोर्ड के चेयरमैन केलों की फोटो लगाते हैं तो पुलिस वाले मेवात में बिरयानी सूंघते घूम रहे हैं. राव नरवीर रहते कहाँ हैं इसका किसी को पता नहीं तो राव इन्द्रजीत जी चंडीगढ़ वालों को दो कौड़ी का बता रहे हैं. एक तरफ शिक्षा मंत्री तीन महीने से गायब हैं वहीं विधानसभा में कडवे प्रवचन सुने जा रहे हैं. एक ओर कृषि मंत्री के घर के चारों ओर लोग बैठे हैं तो दूसरी ओर वे बीमा पालिसी बेचने में व्यस्त हैं. इतने में इनके एक सांसद आकर इनकी गाडी के ड्राइवर बनने के लिए बैठ जाते हैं. उनको ड्राइवरी से हटने की सलाह देने वाले खुद ड्राइविंग लाइसेंस ढूंढ रहे हैं. बढ़ते अपराध में सरकार बंदूकों के लाइंसेंस बनाने का अधिकार डीएम को देती है तो वहीं आज डेवलपमेंट चार्जिज में कई गुना बढ़ोतरी की खबर को प्रवक्ता विकास बता कर शेयर करते हैं. एक और प्रवक्ता सरकार से खबरों के लिए लड़ रहे हैं तो दूसरी ओर विकास के दावे भर रहे हैं. इस भयानक विकास के बीच कासनी जी छह घंटे में दो दो बार ट्रांसफर हो जाते हैं तो दूसरी ओर स्वास्थ्य मंत्री एक आइएएस से भिड जाते हैं. न किसान को खाद मिल रही है न फसल के भाव. अधिवक्ता दफ्तर में एक क्लर्क अतिरिक्त महाधिवक्ता को जातिसूचक शब्द बोलता है; वहीँ इस मामले की महाधिवक्ता को जानकारी ही नहीं है. हर रोज विकास ढूंढ रही सरकार बीस पच्चीस की ट्रांसफर कर विकास करवा रही है तो बिन मांगे शिक्षा विभाग की ट्रांस्फरों को सरकार मर्जी की बता पीठ थपथपा रही है. बाहरी लोग सीएम दफ्तर में घेरा डाल रहे हैं तो दूसरी ओर प्रवक्ता इटली घूम रहे हैं. खानक की खानों में सात सौ करोड़ डूब चुका है वहीं दूसरी ओर धान में हजारों करोड़. एक विधायक जी रेहड़ी वालों से पैसे इकट्ठे करते घूम रहे हैं तो दूसरी ओर एक विधायक जी ट्रांसफर के केस खुद मांगते घूम रहे हैं. एक सासंद आरएसएस वालों को घर से बाहर निकालते हैं तो दूसरे सांसद अपने घर को बंकर बनाने में व्यस्त हैं. धींगरा कमिशन की रिपोर्ट शाह के घर घूम रही है वहीँ इसके इंतजार में एक पूर्व मुख्यमंत्री की साँसें फूल रही हैं. ऐसा लगता है कि भाजपा नामक कुँए में भांग घुली है और सारी सरकार नशे में घूम रही है.

किसी कवि ने अभी अभी यहाँ कहा है:

अजगर करे न चाकरी, पंछी करे न काम,

दास मलूका कह गये, सबके दाता राम

अफसर करे न चाकरी. मंत्री करें न काम

लाख टके की बात है सबके खट्टर राम

इनपुट्स के लिए अश्वनी वर्मा जी का धन्यवाद!

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *