मैं और मेरे गांधी

rsdhull निजी विचार Leave a Comment

हमेशा की तरह आज महात्मा गांधी जी के शहीदी दिवस पर गांधी जी बनाम गोडसे अथवा गांधी जी बनाम अन्य की बहस चली है. इस बहस के दौरान मैं अपने अंदर गांधी को ढूँढने चला. गांधी जी से मेरा क्या रिश्ता है बस यही आज मेरा लेख है. राजनैतिक रूप से बेहद सक्रिय परिवार से सम्बन्ध रखने के कारण मैं …

किसान एवं कमेरों की एकता समय की जरूरत

rsdhull निजी विचार Leave a Comment

भारत कृषि प्रधान देश है. इस देश की लगभग 70% आबादी ग्रामीण क्षेत्र में ही बसती है. आजादी की लड़ाई से आज तक हर बड़े सामाजिक नेता ने किसान और ग्रामीण क्षेत्र की बात की है. रहबरे आजम सर छोटू राम से लेकर चौधरी देवी लाल जी, महात्मा गांधी से लेकर चौधरी चरण सिंह तक हर एक बड़े नेता का …

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का आगमन

rsdhull जीवनी Leave a Comment

मेरे दादा चौधरी दल सिंह जी को नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के लिए भर्ती अधिकारी के रूप में जर्मनी में शामिल होने का मौका मिला। इस दौरान कुछ अभूतपूर्व घटना क्रम हुआ जिसमें नेताजी को जर्मनी में जंगी कैम्प में बोलने से रोकने की कोशिश की गयी। आज नेता जी की जयंती पर मैं वह घटना क्रम आप सब के …