क्या यह आक्रोश सही है?

rsdhull राजनैतिक विश्लेष्ण 1 Comment

कुछ प्रधानमन्त्री के समर्थक दुर्भाग्यपूर्ण रूप से भारत की महान सेना के 18 जवानों के शहीद होने के बाद स्वाभाविक पैदा हुए आक्रोश को राजनीति के रूप में ले ख़ारिज कर रहे है; इस देश का एक भी सैनिक जब शहीद होता है तो आँखे नम होती हैं और साथ ही गुस्सा आता है सालों साल राजनैतिक नेतृत्त्व के कमजोर प्रदर्शन …